नर की सेवा नारायण की सेवा है: वशिष्ठ महाराज

Spread the love

सुशील कुमार सोनी, बगहा/बाल्मीकिनगर (प0च0) :- शारदीय नवरात्र की षष्ठी तिथि के अवसर पर थाना क्षेत्र में स्वरांजलि सेवा संस्थान द्वारा शुक्रवार को दरिद्र नारायण भोज का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ कोटि होम आश्रम नेपाल के पीठाधीश्वर स्वामी गुरू वशिष्ठ जी महाराज ने गौ माता की पूजा करके किया। इस दौरान गोल चौक, महा शिव मंदिर, यात्री प्रतीक्षालय, थ्री़ आरडी पूल, टंकी बाजार, लव-कुश घाट, गंडक बराज, हवाई अड्डा, ठाढ़ी, पिपरा कुटी, एवं लक्ष्मीपुर आदि क्षेत्रों में रहने वाले दिव्यांगों एवं मानसिक बीमारों को विशेष व्यंजन परोसा गया। दैनिक चलंत दरिद्र नारायण भोज के माध्यम से गुरु वशिष्ठ ने कहा कि दीन दुखियों की सेवा ही सच्ची ईश्वर भक्ति है। यूं तो संस्था द्वारा हर दिन सुबह शाम दिव्यांगों को मानसिक बीमारों को निशुल्क भोजन दिया जाता है। महीने में एक बार वशिष्ठ आश्रम द्वारा विशेष महाप्रसाद संस्था के निदेशक डी आनंद के नेतृत्व में घूम- घूम कर भारत नेपाल सीमा पर रहने वाले दिव्यांगों के बीच वितरित किया जाता है। बताते चलें कि 14 नवंबर 2012 से भारत नेपाल सीमा पर नियमित रूप से स्वरांजलि सेवा संस्थान द्वारा दिव्यांगों को सुबह शाम- भोजन कराया जाता है। संस्था के संस्थापक श्री आनंद ने कहा कि मानवता शर्मसार ना हो इसलिए मानवीय संवेदनाओं को समझते हुए हमारी संस्था यह काम करती हैं। ठंड के मौसम में ऐसे मानसिक बीमारों को, दिव्यांगों को, गर्म कपड़े और कंबल प्रदान किया जाता है। भूले भटके लोगों को उनके परिजनों से भी मिलवाया जाता है। मरणोपरांत ऐसे लोगों का अंतिम संस्कार भी संस्था कराती है। इस दौरान दर्जनों दिव्यांग एवं असहाय इस दरिद्र नारायण भोज से लाभान्वित हुए। संस्था के प्रबंधक गायक अभिनेता एवं समाजसेवी संगीत आनंद ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जहां ऐसे मानसिक बीमारों से लोग नफरत और घृणा करते हैं। वही हम ऐसे लोगों की सेवा करके अपने जीवन को धन्य बनाते हैं। नर की सेवा नारायण की सेवा है। जब तक मेरा जीवन रहेगा। तब तक मैं ऐसे लोगों की सेवा करता रहूंगा। भारत नेपाल सीमा पर संस्था द्वारा दिव्यांगों की ऐसी सेवा देखकर जहां लोग काफी प्रसन्न होते हैं। वही ऐसी सेवा भावना की भरपूर चर्चा होती है। इस दौरान गायक समाजसेवी एवं अभिनेता संगीत आनंद, सुशील कुमार, रामलाल प्रसाद, पवन कुमार, शिव चंद्र शर्मा, कार्तिक कुमार काजी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *