पद्मश्री से सम्मानित महिला विधायिका भागीरथी देवी को बैठने की जगह ना मिलना पद्मश्री का अपमान

Spread the love

अरविंद नाथ तिवारी बगहा(पश्चिमी चम्पारण):- वाल्मीकि नगर संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद सतीश चन्द्र दुबे के राज्यसभा के सदस्य बनने के लिए किए जा रहे कल नामांकन के दौरान पद्मश्री से सम्मानित महिला विधायिका भागीरथी देवी को बैठने की जगह ना मिलने को लेकर वाल्मीकि नगर संसदीय क्षेत्र और सोशल साइट पर कल से चर्चा का विषय बना हुआ है।

जरूर पढ़े:- जयकारे से गुंजा भैरोगंज

नामांकन के दौरान कुर्सी पर प्रत्याशी सतीशचन्द्र दुबे के बगल में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय कुमार जयसवाल एवं मंत्री अश्वनी चौबे बैठे हैं वही इन सबके पीछे पद्मश्री महिला विधायिका भागीरथी देवी खड़ी हैं। इनके खड़ा रहना देखकर वाल्मीकि नगर संसदीय क्षेत्र के लोक कल्याण निर्माण मंच के अध्यक्ष रवि उपाध्याय ने भी भागीरथी देवी का अपमान ही नहीं यह पद्मश्री का अपमान भी बताया है।

इसे भी पढ़े:- नर की सेवा नारायण की सेवा

वही सोशल साइट एवं फेसबुक पर यह कहा जा रहा कि क्या भाजपा की यही संस्कृति है। जबकि यहा बैठने वालों बिहार के उपमुख्यमंत्री भी शामिल है। भले बुरे शब्दों से व्यंगात्मक बातें भाजपा और इन नेताओं के लिए बोला जाता रहा है। वही एक तरफ देखा जाए तो महिला को बराबर का दर्जा दिया गया है लेकिन यह देखकर ऐसा प्रतित हो रहा है कि केवल कहने भर ही है। लोगों का कहना है कि यह तो विधायिका का नही पद्मश्री का अपमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *